होम चश्मे  |  In English

पढ़ने के चश्मे का पावर: सही पावर का चुनाव कैसे करें

पुस्तक को देखकर पढ़ने वाले चश्मे की जोड़ी

भले ही जीवन के अधिकांश भाग में आपकी दष्टि-शक्ति अच्छी रही हो, 40 साल की उम्र के बाद एक समय आएगा जब आपको पढ़ने के चश्मे की आवश्यकता होगी.

भले ही यह दुर्भाग्यपूर्ण लगे, यह बिल्कुल सामान्य है और हम सभी के साथ ऐसा होता है। पढ़ने की चश्मे की यह ज़रूरत आँख के भीतर के लेंस में उम्र से संबंधित परिवर्तनों के कारण होती है, जिससे छोटे प्रिंट या क्लोज़-अप वस्तुओं पर ध्यान केंद्रित करना अधिक कठिन हो जाता है। इस परिवर्तन के लिए तकनीकी शब्द प्रेसबायोपिया (ज़रा दूरदृष्टि) है.

यदि आपको कभी भी निकट दृष्टि-दोष, दूर दृष्टि-दोष और/या एस्टिग्मेटिज़्म जैसी दृष्टि की समस्याओं के लिए प्रेस्क्रिप्शन चश्मों, की आवश्यकतानहीं पड़ी है, तो संभव हैकि गैर-प्रेस्क्रिप्शन पढ़ने के चश्मे के साथ, आप स्वीकार्य रूप से अच्छी तरह से देख पाएँगे।

एक बार प्रेसबायोपिया के लक्षणों को देखने पर आप इन "पढ़ने के चश्मों" को अनेक सुपरमार्केटों में या केमिस्ट के यहाँ खरीद सकते हैं।

आमतौर पर कहा जाए तो, ज़्यादातर लोगों को 40 की उम्र के बाद छोटे प्रिंट देखने में समस्या होने लगती है और उम्र के साथ यह समस्या धीरे-धीरे बढ़ती जाती है। इसके अलावा, आप पढ़ते समय अपनी आँखों को अधिक जल्दी थका हुआ महसूस कर सकते हैं। यहाँ तक कि जब आप बहुत अधिक पढ़ते या कंप्यूटर का उपयोग करते हैं तब आपको सिरदर्द भी शुरू हो सकता है।

प्रेस्बोपिया की प्रगतिशील प्रकृति के कारण, 40 के दशक के लोगों के लिए कम पावर वाले पढ़ने के चश्मे और 60 के दशक को लोगों के लिए उच्च पावर के पढ़ने वाले चश्मे के साथ सबसे अच्छे रहते हैं।

60 वर्ष की उम्र के बाद, पढ़ने के चश्मे का इष्टतम पावर अपरिवर्तित बना रहता है, और आपके द्वारा किए जा रहे निकट दृष्टि कार्य के प्रकार पर निर्भर करता है।

गैर-प्रेस्क्रिप्शन पढ़ने के चश्मे आमतौर पर +0.75 डायोप्टर से +3.00 डायोप्टर (D) तक की पावर के होते हैं। दोनों लेंसों का समान पावर होता है, जो आमतौर पर लेंसों पर हटाने वाले स्टिकर और/या फ्रेम के अंदर की ओर एक स्थायी अंकन के साथ इंगित किया जाता है।

कभी-कभी, उम्र के अनुसार पढ़ने के चश्मे का पावर चार्ट — जैसा कि इस पेज पर है — पढ़ने के चश्मे के साथ दिखाया जाता है, जिससे आपको पढ़ने के चश्मे के पावर का चयन करने में सहायता मिलती है।

ये चार्ट आम तौर पर यह मान लेते हैं कि आप अपनी आँखों से लगभग 14 से 16 इंच की दूरी पर रखे सामान्य आकार के प्रिंट को पढ़ने के लिए चश्मे का उपयोग कर रहे होंगे।

हालांकि, ध्यान रखें कि इस तरह के एक चार्ट पर लेंस के पावर सिर्फ एक प्रारंभिक बिंदु हैं। आपकी आवश्यकताओं के लिए सबसे अच्छे पढ़ने के चश्मे का पावर सिर्फ आपकी उम्र के अलावा और भी कारकों पर निर्भर करता है।

उदाहरण के लिए, यदि आप कंप्यूटर का उपयोग करते समय मुख्य रूप से पढ़ने का चश्मा पहनते हैं, तो आप एक कम रीडिंग ग्लास (पढ़ने के चश्मे के) पावर का चयन करना चाह सकते हैं। ऐसा इसलिए है क्योंकि अधिकांश व्यक्ति अपनी स्क्रीन को अपनी आँखों से उससे अधिक दूरी से देखते हैं जितनी दूरी पर वे किताब या पत्रिका पढ़ते हैं।

देखने की दूरी जितनी लंबी होगी, आरामदायक दृष्टि के लिए उतने ही कम पावर वाले लेंस की आवश्यकता होगी।

दूसरी ओर, यदि आपको बहुत नज़दीकी या बहुत छोटी चीज़ देखने के लिए (जैसे कि अपने नाखूनों को ट्रिम करना या अपनी उंगली से एक कांटा निकालना) के लिए पढ़ने के चश्मे की आवश्यकता होती है, तो आप चार्ट द्वारा बताए उम्र पर आधारित पढ़ने के चश्मे के पावर से अधिक पावर वाला पढ़ने का चश्मा लेना चाहेंगे।

ज़्यादातर मामलों में, जब दो पढ़ने के चश्मों का पावर समान रूप से उपयुक्त लगता है, तो कम पावर वाला चश्मा चुनें। आमतौर पर, थोड़े से कम पावर वाले चश्मे की तुलना में अधिक पावर वाले पढ़ने वाले चश्मे असुविधा की समस्या अधिक पैदा करेंगे।

और इष्टतम स्पष्टता और आराम के लिए, विभिन्न कार्यों के लिए विभिन्न पावर वाले अनेक पढ़ने के चश्मे खरीदने पर विचार करें।

अंत में, सर्वोत्तम परिणामों के लिए, एक व्यापक नेत्र परीक्षण शेड्यूल करें तथा और अपनी व्यक्तिगत ज़रूरतों के लिए सबसे अच्छे पढ़ने के चश्मे के पावर के बारे में पेशेवर सलाह के लिए अपने ऑप्टीशियन से पूछें।

Find Eye Doctor

शेड्यूल आई एग्जाम

ऑप्टिशियन खोजें